Skip to main content

भारत (INDIA) में कुल कितनी भाषाएं बोली जाती हैं?

क्या आप को पता हैं कि, भारत में कितनी भाषाएं बोली जाती है। अगर नही पता है तो यह आर्टीकल को पढ़ते रहिए, क्यों कि यहां हम ने आपको बताया है कि "India mei kitni languages (bhasha) boli jaati hei"

India मैं विभिन्न ज्ञाति, धार्म और संप्रदाय के लोग एक साथ मिल कर रहते है। इसे कारण भारत में "विविधता में एकता" भी देखी जा सकती है। लेकिन जहां तक भाषाओं की बात है तो यहां काफी अलग अलग भाषाए बोली जाती है। जो इन सभी प्रकार को लोगों को अपनी एक अलग पहचान भी देती है, और तुरंत से पहचाना भी जा सकता हैं।

आखिरी जन गणना के रिपोर्ट के विश्लेषण के अनुसार देखा जाए तो, India मैं लगभग 19,500 जितनी भाषाएँ बोली जाती है। सुन ने मैं कुछ अजीब लगता है पर कुछ अंश तक यह एक दम सही भी है। क्यों कि हर जिले, प्रदेश, सम्प्रदाय, समुह के लोगों की एक अलग प्रसिद्ध भाषा है। यह बात हम ने आप को एक उदाहरण दे कर समजाया है, जिससे आप आसानी से हमारी बात को समझ पायेंगे।

जैसे आप देखेंगे कि, पश्चिम भारत में ज़्यादातर गुजराती, राजस्थानी और पंजाबी language बोली जाती है। दक्षिण मैं सब से ज़्यादा तमिल, तेलुगु और कन्नड़ बोली जाती है।

भारत में बोली जाने वाली मुख्य भाषाए

यह पक्का बताना तो मुश्किल है, कि भारत में total कितनी भाषाए बोली जाती है। क्यों कि भारत एक बोहोत ही बड़ा देश है जहां अलग अलग संप्रदाय और समुह के लोग रहते है, जो अलग अलग भाषाए बोलते है। जैसा कि हम ने आपको आगे बात या।

इतनी भाषाओं के चलते, भारतिय संविधान ने 22 भाषाओं को मान्य किया है। यह 22 भाषाए सब से अधिक बोली जाने वाली और समझी जाने वाली भाषाए है। जिसके रहते किसी भी नागरिक को समझने और बोलने में किसी भी प्रकार की मुश्किल ना आ सके।

भारतीय केंद्र सरकार की मुख्य भाषा हिन्दी और इंगलिश है। आपने बोहोत से सरकारी कागज़ देखे भी होंगे जो हिन्दी और इंग्लिश में ही होंगे।

राज्य सरकार की अपनी अपनी अलग language हो सकती है। जैसे गुजरात में आपको मुख्यरूप से गुजरती भाषा देखने को मिलेगी, वहीं दक्षिण में आपको तेलुगु और कन्नड़ जैसी भाषा देखने को मिलेगी। राज्य सरकार का यह भाषाओं का उपयोग करने का मूल उद्देश्य यही है कि, वहां के नागरिकों को सरकार की किसी भी प्रकार की सूचना या संविधान को समझने में परेशानी ना रहे और वे सरलता से सरकार को समझ सके।


India मैं कितनी भाषाए बोली जाती है?

वैसे तो भारत में 19,500 languages बोली जाती है, लेकिन  India मैं कुल 22 भाषाए है, जो सब से अधिक बोली और समझी जाती है। और यही 22 भाषाओं को भारतीय संविधान ने संविधानिक रूप से मान्य भी किया है। यह रहे वो 22 languages:

  1. हिंदी
  2. बंगाली
  3. असमिया
  4. बोडो
  5. डोंगरी
  6. गुजराती
  7. तमिल
  8. तेलुगु
  9. उर्दू
  10. सिंधी
  11. संथाली
  12. संस्कृत
  13. पंजाबी
  14. ओरिया
  15. नेपाली
  16. मराठी
  17. मणिपुरी
  18. मलयालम
  19. मैथिली
  20. कश्मीरी
  21. कन्नडा
  22. कोकड़ी

देश का 90℅ से भी ज़्यादा हिस्सा इन्ही 22 मैं से कुछ भाषा बोलता है और समझता है। और यही वजह है कि इन भाषाओं को देश के संविधान में शामिल किया गया है।

अभी आप जान ही गये होंगे कि India में सब से ज़्यादा बोली जाने वाली भाषा कौनसी है, और उसकी वजह भी। तो अभी हम आपको इससे जुड़ी कुछ और जानकारी देंगे। जो आपको काम भीना सकती है।


गुजरात में बोली जाने वाली भाषाए:

गुजरात में मुख्यरूप से गुजराती भाषा ही बोली जाती है। गुजराती एक इंडो आर्यन (Indo Aaryan) भाषा है जो संस्कृत से निकली है। और आपको बता दें कि गुजराती 26वी सब से अधिक बोली जाने वाली भाषा हैं।

गुजरात के आस पास राजस्थान, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश की सिमा रेखा है। जिसकी वजह से गुजरात मैं गुजराती के साथ साथ हिंदी, मारवाड़ी, मराठी, सिंधी और उर्दू भी बोली जाती है।

(गुजरात के कच्छ मैं लोगों की मातृभाषा कच्छी है)

बिहार में बोली जाने वाली भाषाए:

बिहार में सब से ज़्यादा मैथिली और भोजपुरी भाषा बोली जाती है। साथ ही माघी(Maghi) भी काफी चलित भाषा है।


Kerala में बोली जाने वाली भाषाए:

Kerala की ऑफिशियल भाषा मलयालम है। मलयालम द्रविड़ियन समूह की भाषा है। 90% लोग वहां मलयालम ही बोलते है, लेकिन साथ मैं इंग्लिश और तमिल भाषा बोलने वाले लोग भी केरल में देखने को मिलते है।


तो आज हम ने यह जान के "How many languages are spoken in India" और साथ मैं यह भी जाना के Gujarat, Kerala और Bihar मैं कौनसी भाषाएँ बोली जाती है।

हम आशा करते है कि आपको हमारा "India मैं कितनी भाषाए बोली जाती है" आर्टीकल अच्छा लगा होगा। अगर आपको कुछ भी गलती या परेशानी हो, तो आप हम से Contact Form से सीधा संपर्क कर सकते है।

Popular posts from this blog

Union Bank Of India Balance Check by Missed Call

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे आप 100% safe तरीके से Union Bank Of India के account की Balance Enquiry कर सकते है। यह प्रोसेस के लिये आपके पास स्मार्टफोन होना जरूरी नही है।

Internet पर बोहोत लोग गलत जानकारी देते है, जिससे आपके bank की personal details leak होने की संभावना रहती है। तो हम आपको ऐसी सभी जानकारी से दूर रहने की सलाह देते है। और आज हम Union Bank की balance check करने की जो method बताने जा रहे है वो UBI की Official method है। जिससे आपकी personal information bank तक ही सीमित रहेगी।

Balance check करने की जिस मेथड की हम बात कर रहे है, वह है Misssd Call Banking. यह सबसे आसान और भरोसेमंद तारीका है, जिसे लाखों लोग रोज़ इस्तेमाल करते है। इसके अलावा हम आपको SMS banking भी बताएंगे, जिसमे आप SMS के जरिये भी balance check कर सकते है।


Union Bank Of India Balance Enquiry 2020Missed Call या SMS से UBI bank का balance check करने के लिए आपका mobile number आपके बैंक account के साथ register/link होना आवश्यक है। अगर आपका mobile number लिंक नही है, तो आप यह सुविधा का इस्तेमाल …

Bank Of India Balance Check Missed Call Number

अगर आपका Bank Of India (BOI) बैंक में account है, तो यह post आपके लिए है। क्योंकि आज हम आपको बताने वाले है कि, कैसे आप 100% सुरक्षित तरीके से अपने Phone से BOI के बैंक account का Balance check कर सकते है। यह काम आप कोई भी फ़ोन से कर सकते है, जरूरी नही है कि आपके पास महँगा स्मार्टफोन हो।

वैसे तो आप Bank Of Indiaकी Balance Enquiry, Net banking, mobile banking और पासबुक एंट्री कर के कर सकते है। लेकिन हम आपको सबसे सरल तरीका बताएंगे, जसमे आपको कहीं जाने की जरूरत नही पड़ेगी और आप कोई भी फ़ोन से यह काम कर सकते हो। 

Balance check करने की जिस method की हम आज बात करेंगे, वो हे BOI की Missed Call सर्विस। इसमें आपको अपने फ़ोन से missed call करना है और आपके balance की रकम आपके phone number पर SMS कर दी जाएगी। यह सबसे सुरक्षित और सरल तरीका है। तो चलिए  अब हम जानते है कि आप कैसे घर बैठे अपने BOI के account की Balance Enquiry कर सकते हो।

Missed Call से Bank Of India (BOI) Balance Enquiry in 2020 अभी हम आपको बताएंगे कि आप कैसे missed call करके आपके account balance को check कर सकते हो। यह एक…

CNG और LPG में क्‍या अंतर है - What is the difference between CNG and LPG in Hindi

"CNG और LPG" यह नाम आप मै से बोहोत लोगों ने सुने होंगे, और कुछ लोगों को पता भी होगा कि यह क्या है। अगर नही पता है तो कोई बात नही। यह पोस्ट आपके लिए ही तैयार किया गया है।

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे कि "सीएनजी (CNG) और एलपीजी (LPG) मैं क्या अंतर है?" "What is the difference between CPG and LNG in Hindi" तो चलिए ज्यादा समय न गवाते हुए हम जल्दी से मुख्य मुद्दे की बात करते है।

LPG और CNG मैं अंतर जान ने के लिए सब से पहले यह जान न काफी जरूरी है कि "LPG क्या है?" और "CNG क्या है?" तो यहां पर हम ने आपको यही भी बताया है कि "What is LPG in Hindi" और "What is CNG in Hindi". तो चलिए सब से पहले यह जान लेते है। यह जान ने के बाद आपको इन् के बीच का अंतर काफी सरलता से समझ पाएंगे।

LPG क्या है? | What is LPG in HindiLPG का पूरा नाम  Liquefied Petroleum Gas है। Liquefied Petroleum Gas बोहोत से हैड्रोकार्बन गेस का मिश्रण है।रसोई गैस मैं यह सब से ज़्यादा उपयोग होता है।LPG गैस कई वाहनों में ईंधन  रूप में भी इस्तमाल किया जाने लगा …